Advertisement

RAC GNWL CNF KA KYA MATLAB HAI 2019

RAC GNWL CNF KA KYA MATLAB HAI 2019


हेल्लो दोस्तों आज हम बात करेंगे आप अगर Train Ticket Book करते हो तो आपको RAC , GNWL , RLWL , PQWL , RLGN , RSWL , RQWL , TQWL , देखने को मिलता है, आपको इन सबके बारे में पता होना चाहिए तब जाके आपको TICKET BOOK करना चाहिए | आज हम आपको इन सभी के बारे में सरल भासा हिंदी से समझाने का कोसिस करता हु | तो चलिए सुरु करते है ,

RAC: Reservation against Cancellation का मतलब ?

RAC ( Reservation against Cancellation ) आप अगर RAC में टिकेट बुक करते है, तो आपका टिकेट CONFIRME तो नही होता है लेकिन आप ट्रेन में सफ़र कर सकते हो | आप को सिर्फ बेठने का सीट मिलेगा | अगर कोई CONFIRMED टिकेट कैंसिल किया तब जाके आप का RAC टिकेट CONFIRMED होगा | हा लेकिन आप RAC टिकेट में आराम से सफ़र कर सकते हो |

GNWL: General Waiting List का मतलब ?

GNWL ( General Waiting List ) GNWL टिकेट आपको तब मिलता है जब आप जैसे की स्टार्टिंग स्टेशन से आप टिकेट बुक करते हो | उस  टाइम आपको GNWL टिकेट देखने को मिलता है, और सबसे जादा चांस होता है ये टिकेट RAC या CONFIRMED होने का लेकिन आप का टिकेट चार्ट लिस्ट बनते वक़्त भी GNWL में है तो आप उस टिकेट से सफ़र नही कर सकते हो | अगर RAC या CONFIRMED हो जाये तब जाके सफ़र कर सकते हो | आपको तो General Waiting List के बारे में तो आपको पता चल गया,

RLWL: Remote Location Waiting List का मतलब ?

RLWL: रिमोट लोकेशन वेटिंग लिस्ट (RLWL) का मतलब है कि इंटरमीडिएट स्टेशनों , ये टिकेट तब मिलता है | जैसे की कोई ट्रेन Delhi से Kanpur , Allhabad , Bnaras तक जायेगा और आप kanpur से टिकेट बुक किया है, उस वक़्त आप को RLWL का टिकेट मिलता है, इस टिकेट को RAC या CONFIRMED होने का बहुत कम चांस होता है , आप धयान रखे इस टिकेट से आप सफ़र नही कर सकते है | अगर आप Delhi से ही बनारस तक का टिकेट बुक कर लेते हो तो CONFIRMED या RAC होने का चांस बहुत ही जादा होता है | Remote Location Waiting List के बारे में तो आपको पता चल गया |

PQWL: A Pooled Quota Waiting List का मतलब ?

PQWL: एक पूलित कोटा प्रतीक्षा सूची (PQWL) कई छोटे स्टेशनों द्वारा साझा की जाती है। पूल किए गए कोटा आमतौर पर केवल एक रूट के मूल स्टेशन से संचालित होते हैं, इस टिकेट को आप बुक ना करे तो ही बेहतर है PQWL टिकेट बहुत बहुत ही जादा कम चांस होता है RAC या CONFIRMED होने में बिलकुल न के बराबर , आप इस टिकेट में भी सफ़र नही कर सकते हो | Pooled Quota Waiting List  के बारे में तो आपको पता चल गया |

RLGN: Remote LocatGeneral Waiting Listion  का मतलब ?

RLGN: रिमोट लोकेशन जनरल वेटिंग लिस्ट (Remote LocatGeneral Waiting Listion  ) तब जारी की जाती है जब कोई उपयोगकर्ता एक टिकट बुक करता है जहां WL कोटा RLWL होता है। इसका मतलब टिकट बुकिंग के बाद RLWL को RLGN नाम दिया गया। ये टिकेट 0% चांस है RAC या CONFIRMED होने में तो आप इसे भी बुक न करे और जैसे की आप इस टिकेट में भी सफ़र नही कर सकते हो | Remote LocatGeneral Waiting Listion के बारे में तो आपको पता चल गया |

RSWL : Roadside Station Waiting List का मतलब ?

RSWL: रोडसाइड स्टेशन वेटिंग लिस्ट (Roadside Station Waiting List) ये टिकेट लगभग सेम PQWL के बराबर होता है, आपको PQWL के बारे में पहले बता दिए है | आप इस टिकेट में सफ़र नही कर सकते हो | Roadside Station Waiting List के बारे में तो आपको पता चल गया | Roadside Station Waiting List के बारे में तो आपको पता चल गया |

RQWL : Request Waiting List का मतलब ?

RQWL: ( Request Waiting List ) यदि एक टिकट को एक मध्यवर्ती स्टेशन से दूसरे मध्यवर्ती स्टेशन तक बुक किया जाना है, और यदि यह सामान्य कोटा या दूरस्थ स्थान कोटा या पूलित कोटा द्वारा कवर नहीं किया जाता है, तो टिकट के लिए अनुरोध अनुरोध प्रतीक्षा सूची में जा सकता है। (RQWL) तो मेरे मानो तो आप इसे भी बुक न करे आप इस में सफ़र नही कर सकते हो |Request Waiting List के बारे में तो आपको पता चल गया |

TQWL : Tatkal Quota waiting list का मतलब ?

TQWL ( Tatkal Quota waiting list ) TQWL का पहला नाम TKWL था,  जिसे दिसंबर 2016 से भारतीय रेलवे द्वारा TQWL में बदल दिया गया है। यदि आपको TQWL टिकेट मिला है तो  यह सीधे CONFIRME हो जाती है और RAC स्थिति से नहीं जाती है। आप इस टिकेट से सफ़र कर सकते हो | Tatkal Quota waiting list के बारे में तो आपको पता चल गया |

WL धयान रहे वेटिंग टिकट बुक किया है

अगर आपने वेटिंग टिकट बुक किया है या आप यह तय कर रहे हैं कि टिकट बुक करना है या नहीं , जहां करेंट स्टेटस का इंतजार है, तो अपने कन्फर्मेशन के चांस को चेक करें यानी टिकट कन्फर्म हो जाएगा या नहीं।

CONFIRMED  (CNF): इस मामले में यात्री को यात्रा के लिए पूरी बर्थ मिलती है। फर्स्ट एसी (1 A) के मामले में, टिकट जारी होने पर कन्फर्म टिकट के लिए भी यात्री को बर्थ विवरण नहीं मिल सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि चार्ट तैयार करने पर इस वर्ग के लिए बर्थ आवंटन मैन्युअल रूप से टीटीई द्वारा किया जाता है।

और भी इसी तरह की जानकारी चाहते हो तो मेरे इस ब्लॉग पर नज़र रख सकते हो | आपको ये जानकारी कैसा लगा कमेन्ट बॉक्स में जरुर बताना | आप चाहो तो निचे दी गई विडियो द्वरा समझ सकते हो | धन्यवाद 

Post a Comment

0 Comments